होम > हमारे बारे में > माननीय मंत्री

माननीय मंत्री

श्री धर्मेन्‍द्र प्रधान

श्री धर्मेन्‍द्र प्रधान

(राज्य मंत्री - स्वतंत्र प्रभार) पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय
श्री धर्मेन्द्र प्रधान (राज्य मंत्री - स्वतंत्र प्रभार) पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय
व्यक्तिगत विवरण
पिता का नाम डॉ देबेन्‍द्र प्रधान
माता का नाम श्रीमती. बसंत मंजरी प्रधान
जन्म तिथि 26 जून 1969
जन्म स्थान तालचर जिला. अंगुल (ओडिशा)
वैवाहिक स्थिति विवाहित
शादी की तिथि 9 दिसंबर 1998
पत्नी का नाम श्रीमती मृदुला टी प्रधान
बच्चों का विवरण 1 बेटा, 1 बेटी
शैक्षिक योग्यता एमए (मानव विज्ञान), तालचर कॉलेज ओडिशा और उत्कल विश्‍वविद्यालय भुवनेश्वर
संसदीय निर्वाचन क्षेत्र देवगढ़
पार्टी का नाम भाजपा
स्थायी पता दीनदयाल नगर, मानिकमारा, धरमपुर तालचर, जिला - अंगुल, ओडिशा, 759100 दूरभाष 0674 - 2555220
वर्तमान पता सी -1 / 22, हुमायूं रोड, नई दिल्ली -110003
टेलीफोन / फैक्स कार्यालय: 011-23381462, 011-23386622
रहने का स्थान: 011-23018696, 011-23014511
फैक्स: 011-23386118
धारित पद
2000- 2004 सदस्य, ओडिशा विधान सभा
2004 - 2009 सदस्य, 14 वीं लोकसभा
अप्रैल 2012 राज्य सभा के लिए निर्वाचित
मई 2012 – के बाद सरकारी आश्वासन संबंधी सदस्यीय समिति, सदस्य जेपीसी (दूरसंचार लाइसेंस और स्पेक्ट्रम के आवंटन और मूल्य निर्धारण से संबंधित मामलों की जांच के लिए)
मई-अगस्त 2012 सदस्य, ग्रामीण विकास समिति
अगस्त 2012 के बाद अगस्त 2012 के बाद
27 मार्च 2014 पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)
सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यकलाप, साहित्य, कलात्मक और वैज्ञानिक उपलब्धियां और अन्य विशेष हित
बेरोजगारी और कौशल आधारित शिक्षा की कमी, पुनर्वास और किसानों के पुनर्वास, विस्थापित व्यक्तियों और अन्य पिछड़े वर्गों जैसे युवाओं से संबंधित कई मुद्दों पर काम किया। युवाओं को राजनीति में लाने और कल के लिए बेहतर नेता बनाने के लिए सक्रिय रूप से काम करते हुए प्रमुख भूमिका निभाई । इतिहास और राजनीति पर किताबें पढ़ना तथा बदलते सामाजिक रुझानों पर नजर रखना।
अन्य जानकारी
वर्ष 1983 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कार्यकर्ता बने; तालचेर कॉलेज छात्र संघ 1985 के अध्‍यक्ष चुने गए; पूरे ओडिशा भर में छात्र और युवा आंदोलनों सक्रिय रूप से भाग लिया; ए.बी.वी.पी. के सचिव बने; राष्‍ट्रीय सचिव; i) ए्र.बी.वी.पी. 1995, ii) भाजपा 2002, iii) भारतीय जनता युवा मोर्चा (बी.जे.वाई.एम.) 2006, राष्ट्रपति बीजेवाईएम ओडिशा 2001 रहे। अध्‍यक्ष के रूप में धर्म आधारित आरक्षण और अन्य संबंधित मुद्दों का सफलतापूर्वक अभियान चलाया; पार्टी प्रभारी i) भाजपा त्रिपुरा 2004 और भाजपा छत्तीसगढ़ 2008; राष्ट्रीय अध्यक्ष बीजेवाईएम 2004; राष्ट्रीय महासचिव, भाजपा 2010; बिहार राज्य चुनाव प्रभारी रहे; कर्नाटक, उत्तराखंड, झारखंड और ओडिशा राज्‍यों में पार्टी मामलों के संगठनात्मक प्रभारी रहे; सर्वश्रेष्ठ विधायक पुरस्कार, उत्‍कलमणि गोपाबंधु प्रतिभा सम्मान, 2002-2003 से नवाजे गए।
पसंदीदा कार्य और मनोरंजन
परिवार के साथ समय व्यतीत करना
विदेशों की यात्रा
  1. ब्रुसेल्स (बेल्जियम), 2004 में विश्व व्यापार संगठन की बैठक में भाग लिया
  2. अमरीका में अंतरराष्ट्रीय आगंतुक कार्यक्रम, 2005 में भाग लिया
  3. 2006 में मास्‍को (रूस) में एचआईवी के खिलाफ अभियान के लिए यूरोपीय और एशियाई संयुक्त सांसद सम्मेलन में भाग लिया
  4. भाजपा और अंतर्राष्‍ट्रीय रिपब्लिकन इंस्टीट्यूट, 2011 के बीच आदान-प्रदान पहल में भाग लेने के लिए अमेरिका का दौरा किया
  5. मास्को (रूस) में15 जून से 18 जून, 2014 तक 21 वीं विश्व पेट्रोलियम कांग्रेस में भाग लिया
  6. भारत के माननीय राष्ट्रपति राष्ट्रपति के नेतृत्व में भारतीय प्रतिनिधिमंडल के सदस्य के रूप में १५-१७ सितम्बर २०१४ को वियतनाम का दौरा किया
  7. रियाद (सऊदी अरब) में २८-२९ अक्टूबर २०१४ को पेट्रोलियम मंत्रालय के अधिकारिओं एवं सार्वजनिक क्षेत्र के तेल कंपनियों के प्रमुख के प्रतिनिधिमंडल का प्रतिनिधित्व किया
  8. अश्गाबात (तुर्कमेनिस्तान) में १८-२१ नवम्बर २०१४ को तापी (तुर्कमेनिस्तान-अफगानिस्तान-पाकिस्तान-भारत) प्राकृतिक गैस पाइपलाइन परियोजना की १९वीं संचालन समिति की बैठक में भाग लिया
  9. इस्लामाबाद (पाकिस्तान) में ११ फरवरी २०१५ को तापी(तुर्कमेनिस्तान-अफगानिस्तान-पाकिस्तान-भारत) प्राकृतिक गैस पाइपलाइन परियोजना की २०वीं संचालन समिति की बैठक में भाग लेने के लिए
  10. मोज़ाम्‍बिक में 09 अप्रैल से 11 अप्रैल 2015 तक। तेल और गैस क्षेत्रों में मौजूदा निवेश तथा आगामी विस्‍तार से संबंधित सभी मुद्दों पर चर्चा करने के लिए मोज़ाम्‍बिक में।
  11. हाइड्रोकार्बनों के क्षेत्र में पारस्‍पारिक सहयोग को बढ़ावा देने और राष्‍ट्र की ऊर्जा सुरक्षा के लिए दीर्घावधि लिंकेजों के लिए (18 मई से 21 मई, 2015) के बीच मेक्‍सिको तथा कोलंबिया एक प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई ।
  12. आबूजा (नाइजिरिया) में 28 मई से 29 मई, 2015 नए राष्‍ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह में माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी के विशेष दूत के तौर पर नाइजिरिया में।
  13. 2-4, 2015 को वियना, आस्‍ट्रिया में। विशेष अतिथि के तौर पर पेट्रोलियम निर्यातक देशों (ओपेक) के संगठन द्वारा आयोजित छठे ओपेक अंतरराष्‍ट्रीय सम्‍मेलन को संबोधित करने तथा साथ ही महासचिव, ओपेक के साथ एक नियमित संस्‍थागत वार्ता हेतु तथा रूस, ईरान, इराक, कुवैत, बहरीन, अंगोला तथा यूएई जैसे विभिन्‍न देशों के तेल और गैस मंत्रियों के साथ बैठक करने के लिए
  14. 3-6 जुलाई 2015 को कनाडा सरकार के साथ द्विपक्षीय ऊर्जा वार्ता (हाइड्रोकार्बन, तापीय ऊर्जा और नवीकरणीय ऊर्जा जैसे क्षेत्रों को शामिल करते हुए) के लिए भारतीय प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई। साथ ही ऊर्जा क्षेत्र में विभिन्‍न कंपनियों से सीईओज द्वारा भाग लिए गए दो कारोबारी सम्‍मेलनों (कैलगरी तथा वैनकोवर में) को संबोधित करते हुए।
  15. 6-7 अगस्‍त, 2015 को एशगाबात (तुर्कमानिस्‍तान) में तापी प्राकृतिक गैस पाइपलाइन परियोजना की 22वीं संचालन समिति बैठक में भारतीय प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई।